छत्तीसगढ़ राज्य

नियमित कर्मचारी बनाए जाने की मांग को लेकर अब कोटवारों का आंदोलन, 2 जुलाई को विधानसभा का करेंगे घेराव

रायपुर। प्रदेश के 16 हजार कोटवार 7 सूत्रिय मांगों को लेकर 2 जुुलाई को विधानसभा का घेराव करेंगे। वेतन विसंगति एवं नियमित कर्मचारी बनाए जाने की मांग को लेकर संघ ने पूर्व में भी अनेकों बार धरना प्रदर्शन कर शासन को ज्ञापन सौंपा था। बावजूद इसके मांगें पूर्ण नहीं होने पर जंगी प्रदर्शन कर अपनी मांगे सरकार से शीघ्र पूर्ण करने की मांग करेंगे। संघ के प्रमुख सलाहकार अनिल श्रीवास्तव ने बताया कि कोटवार संघ रैली निकालकर 2 जुलाई को दोपहर 12 बजे विधानसभा घेराव के लिए निकलेंगे। कोटवार एसोसिएशन आफ छत्तीसगढ़ के प्रांताध्यक्ष प्रेम किशोर बाघ के अनुसार मुख्यमंत्री द्वारा 2008 में रायपुर में आयोजित सम्मेलन में एवं राजनांदगांव में आयोजित सम्मेलन में 2013 को जो घोषणा की थी, उस पर 10 वर्षों बाद भी अमल नहीं हो पाया है। मुख्य मांगों में कोटवारों को राजस्व विभाग का चतुर्थ वर्ग कर्मी घोषित करना, सभी कोटवारों का 5 लाख का बीमा करना, नक्सली हिंसा के शिकार कोटवारों के परिजनों को 10 लाख रूपए आर्थिक मुआवजा दिया जाना शामिल है।

पत्रिका

अजब गजब