छत्तीसगढ़ राज्य

प्रदेश के युवाओं को मिलेगा युवा रत्न सम्मान, जुलाई में होगा आयोजन, राज्य युवा आयोग चयन समिति की हुई बैठक

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य युवा आयोग की प्रस्तावित राज्य युवा रत्न सम्मान कार्यक्रम के संदर्भ में चयन समिति की बैठक आयोग कार्यालय में रविवार हुई। बैठक की अध्यक्षता आयोग अध्यक्ष कमलचंद्र भंजदेव ने की। इस अवसर पर योग्य युवाओं/संस्थाओं के चयन, कार्यक्रम आयोजन की रूपरेखा आदि पर भी चर्चा की गई। युवा आयोग की ओर से पहली बार युवा रत्न सम्मान कार्यक्रम का आयोजन जुलाई में किया जाएगा। विभिन्न क्षेत्रों जैसे कला, संगीत, स्वच्छता, समाजसेवा, स्वयं सहायता समूह, सूचना प्रद्योगिकी, पत्रकारिता इत्यादि में सराहनीय कार्य करने वाले युवाओं/संस्थाओं को इस कार्यक्रम के तहत सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए आयोग द्वारा विज्ञापन एवं 27 जिलों के कलेक्टर्स से पत्राचार कर योग्य युवाओं/संस्थाओं से प्रविष्ठियां मंगाई गई थी। आयोग को विभिन्न क्षेत्रों से 80 से अधिक प्रविष्ठियां प्राप्त हुई हैं। प्राप्त प्रविष्ठियों के आधार पर अलग-अलग क्षेत्रों से एक-एक योग्य युवाओं/संस्थाओं के चयन के लिए सात सदस्यीय चयन समिति गठित की गई है, जिनकी बैठक रविवार को हुई। बैठक में चयनकर्ताओं ने उक्त आयोजन की प्रशंसा करते हुए, पारदर्शिता के साथ चयन करने की बात कही। चयनकर्ताओं ने कहा कि आयोग अध्यक्ष की इस पहल से निश्चित ही ऐसे युवा/संस्था का अपने-अपने क्षेत्रों में उत्साह एवं नई उमंग के साथ कार्य करने के लिए प्रेरित होंगे। इधर, युवा आयोग अध्यक्ष कमलचन्द्र भंजदेव ने कहा कि जिस तरह अच्छे काम करने पर की गई प्रशंसा से व्यक्ति को एक नई ऊर्जा मिलती है, ठीक उसी तरह इस आयोजन में सम्मान मिलने से विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य कर रहे युवाओं/संस्थाओं का निश्चित ही मनोबल बढ़ेगा। युवा आयोग द्वारा पहली बार इस तरह का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें मुख्य अतिथि के लिए मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री से चर्चा चल रही है।
चयन समिति में ये हैं शामिल
पद्मश्री भारती बंधु, रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. केसरीलाल वर्मा, इंदिरा कला एवं संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ की कुलपति डॉ. मांडवी सिंह, वरिष्ठ साहित्यकार नर्मदाप्रसाद मिश्र, वरिष्ठ पत्रकार आसिफ इकबाल, ओलम्पिक संघ के उपाध्यक्ष मोहम्मद अकरम खान और लोकगायिका रमादत्त जोशी।

पत्रिका

अजब गजब