छत्तीसगढ़ राज्य

समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिए किया जा रहा प्रयास: कश्यप

रायपुर। आदिम जाति, अनूसूचित जाति और अल्प संख्यक विकास मंत्री केदार कश्यप ने सोमवार को छत्तीसगढ़ अल्पसंख्यक आयोग द्वारा आयोजित जिला स्तरीय अल्पसंख्यक सम्मेलन एवं ईद मिलन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। राजधानी रायपुर के वृन्दावन हॉल में आयोजित सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कश्यप ने कहा कि हिन्दू मुस्लिम सिख, इसाई, बैद्ध, जैन सहित सभी धर्मो के लोगों ने आज इस कार्यक्रम में शामिल होकर सामाजिक समरसता और सर्वधर्म समभाव की भावना का परिचय दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में हमारे राज्य में सभी समाज को जोड़ने का काम किया जा रहा है। समाज के सभी वर्गो के विकास हेतु प्रदेश सरकार लगातार प्रयासरत है। कौशल उन्नयन एवं शिक्षा के क्षेत्र में विशेष कार्य किए जा रहे है ताकि सभी वर्गो का जीवन स्तर ऊंचा उठ सके। इस अवसर पर सभी लोगों ने मिलकर राज्य की खुशहाली एवं तरक्की की कामना की। कार्यक्रम में उपस्थित सभी समाज के गुरूओं का सम्मान भी किया गया।
इस अवसर पर संसदीय सचिव एवं विधायक अम्बेश जांगड़े, अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह केम्बो, अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष जीआर राना, छत्तीसगढ़ हज कमेटी के अध्यक्ष सैय्यद सैफुद्दीन, छत्तीसगढ़ उर्दू अकादमी के अध्यक्ष अकरम कुरैशी, छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष मिर्जा एजाज बेग, समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्षा शोभा सोनी, महिला आयोग की अध्यक्षा हर्षिता पाण्डेय, अनुसूचित जनजाति आयोग के उपाध्यक्ष विकास मरकाम, सीएसआईडीसी के अध्यक्ष छगन मूंदड़ा, आरडीए के अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव, अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य तौकीर रजा, मुस्लिम समाज के मौलाना ईमरान रजा, सिख समाज के धर्मगुरू जोगिन्दर एवं अमृत, बौद्ध समाज के धर्मगुरू भन्ते बुद्धघोष, इसाई समाज के अनिल कुमार एवं जोसफ, जैन समाज के जय कुमार बैद एवं अल्पसंख्यक आयोग के सचिव बद्रिश सुखदेव सहित बड़ी संख्या में विभिन्न समुदाय के लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य तौकीर रजा ने किया।

पत्रिका

अजब गजब