छत्तीसगढ़ राज्य

स्कूल शिक्षा मंत्री ने राष्ट्रीय शालेय क्रीडा प्रतियोगिता में पदक प्राप्त 633 खिलाड़ियों को किया सम्मानित, दिया 1 करोड़ 36 हजार का डिमांड ड्राफ्ट

रायपुर। स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने सोमवार को 62वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीडा प्रतियोगिता वर्ष 2016-17 में पदक प्राप्त करने वाले राज्य के 633 खिलाड़ियों को सम्मानित किया। सम्मान समारोह रविन्द्र मंच, कालीबाड़ी में आयोजित किया गया था। कश्यप ने सभी पदक प्राप्त खिलाड़ियों, उनके पालकों तथा गुरूजनों को अपनी बधाई एवं शुभकामनाएं दी। कश्यप ने बताया कि एसजीएफआई द्वारा तैयार की गई ग्रेडेशन सूची में पूरे देश में पिछले वर्ष छत्तीसगढ़ को 11वां स्थान मिला था, जो वर्ष 2017-18 में पांचवे स्थान पर पहुंच गया है, जो हमारे राज्य के लिए गौरव की बात है। इसी सिलसिले में आगामी वर्षाें में पूरे देश में पहले स्थान पर पहुंचना है।
उन्होंने कहा कि हमारे प्रदेश में खेल प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। प्रदेश सरकार भी शिक्षा एवं खेल के बेहतर माहौल उपलब्ध कराने में लगातार प्रयासरत है। पूर्व में प्रदेश में केवल 7 खेल जोन हुआ करते थे, जो कि वर्तमान में प्रदेश के 27 जिलों को 12 खेल जोन में बांटा गया है, जिसमें लगभग 40 हजार खिलाड़ियों को विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेने का अवसर प्राप्त होता है। श्री कश्यप ने बताया कि प्रति वर्ष राष्ट्रीय शालेय क्रीडा प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक, रजक पदक एवं कांस्य पदक प्राप्त करने वाले खिलाडियों को क्रमशः 21 हजार, 15 हजार एवं 10 हजार का रेखांकित चेक के साथ एक-एक ब्लेजर भी प्रदान किया जाता है तथा राज्य, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पदक प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को क्रमशः 10, 15 एवं 20 अंक का बोनस भी प्रदाय किया जाता है।
श्री कश्यप ने खिलाड़ियों की यात्रा भत्ता राशि 150 रूपए से बढ़ाकर 180 रूपए करने की घोषणा भी की। लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में स्वर्ण पदक प्राप्त 261, रजत पदक प्राप्त 167 एवं कांस्य प्रदक प्राप्त 205 सहित कुल 633 खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया। स्वर्ण पदक प्राप्त 261 खिलाड़ियों को 21 हजार के मान से 54 लाख 81 हजार, रजत पदक प्राप्त खिलाड़ियों को 15 हजार के मान से 25 लाख पांच हजार तथा कांस्य पदक प्राप्त 205 खिलाड़ियों को 10,000 रूपए के मान से 20 लाख 50 हजार की राशि का डिमांड ड्राफ्ट वितरित किया गया। श्री कश्यप ने बताया कि शाला क्रीडा प्रतियोगिता वर्ष 2016-17 में 330 बालक एवं 303 बालिकाओं को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर संसदीय सचिव अंबेश जांगड़े, लोक शिक्षण संचालक एस. प्रकाश, जिला शिक्षा अधिकारी रायपुर एनएन बंजारा सहित राज्य के सभी जिलों से आए खिलाड़ी, उनके पालकगण एवं बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थीं।

पत्रिका

अजब गजब