छत्तीसगढ़

किसानों की आत्महत्या पर छत्तीसगढ़ विधानसभा में कांग्रेस का स्थगन प्रस्ताव, 1271 किसानों की आत्महत्या का आरोप

रायपुर. कांग्रेस विधायक दल ने राज्य विधानसभा में किसान आत्महत्या के मामले पर स्थगन प्रस्ताव लाकर कर्ज से परेशान होकर 1271 की आत्महत्या का आरोप लगाया है। कांग्रेस ने राज्य विधानसभा में पूरे मामले पर चर्चा की मांग की। कांग्रेस के प्रस्ताव पर सरकार का जवाब देते हुये राज्य के कृषि एवं जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कांग्रेस के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि राज्य में कर्ज से परेशान होकर किसानों की आत्महत्या का आरोप बेबुनियाद है।

बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि किसानों को राज्य में शून्य प्रतिशत की दर से ब्याज पर ऋण दिया जाता है। इसके साथ ही किसानों को सूखा राहत की राशि, बीमे की राशि, नि:शुल्क धान बीज और 6000 युनिट तक नि:शुल्क बिजली दी जा रही है। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि राज्य में कर्ज के कारण किसानों की आत्महत्या का आरोप तथ्य से परे और भ्रामक है। शासन का जवाब सुनने के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने कांग्रेस के काम रोको प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया।

पत्रिका

अजब गजब