अजब गजब

कोरिया कुमार के निधन पर शोक प्रकट करते हुए सीएम ने कहा- डॉ. सिंहदेव का सम्पूर्ण जीवन सादगी और  शुचिता का प्रेरक

रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री डॉ. रामचन्द्र सिंह देव के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। उन्होंने आज सवेरे राजधानी रायपुर के मौलश्री विहार कॉलोनी स्थित डॉ. सिंहदेव के निवास पहुंच कर उनके पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि दी। उन्होंने स्वर्गीय डॉ. सिंहदेव के परिजनों से मिलकर संवेदना प्रकट की। ज्ञातव्य है कि डॉ. रामचन्द्र सिंहदेव का आज रात लगभग डेढ़ बजे यहां एक प्राइवेट अस्पताल में निधन हो गया। 

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने उनके देहावसान पर शोक प्रकट करते हुए कहा है कि डॉ. सिंहदेव का सुदीर्घ सार्वजनिक जीवन सभी लोगों के लिए सादगी और शुचिता का प्रेरणादायक उदाहरण रहा। डॉ. सिंह ने कहा – एक सजग और कर्मठ जनप्रतिनिधि के रूप में  स्वर्गीय डॉ. रामचन्द्र सिंहदेव ने लगभग पांच दशक लम्बे राजनीतिक जीवन में सादगी के साथ जनता की सेवा को ही अपना लक्ष्य माना और जीवन भर समाज और देश की सेवा में लगे रहे। डॉ. रमन सिंह ने कहा – तत्कालीन अविभाजित मध्यप्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों के मंत्री और वर्ष 2000 में गठित छत्तीसगढ़ प्रदेश के प्रथम वित्त मंत्री के रूप में डॉ. रामचन्द्र सिंहदेव की सेवाओं को हमेशा याद रखा जाएगा। वह छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले के राजपरिवार से ताल्लुक रखते थे, लेकिन उन्होंने राजा के रूप में नहीं, बल्कि अपना पूरा जीवन फकीर की तरह गुजारा। वह पक्ष और विपक्ष के सभी लोगों में समान रूप से लोकप्रिय थे। डॉ. रमन सिंह ने स्वर्गीय डॉ. सिंहदेव को मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की जनता के लिए और समूची पीढ़ी के लिए आदर्श बताया। 

 डॉ. सिंह ने कहा – स्वर्गीय डॉ. सिंहदेव एक विद्वान अर्थशास्त्री और चिंतक थे। पर्यावरण और जल संसाधन जैसे विषयों पर उनकी गहरी पकड़ और विशेषज्ञता थी। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की विभिन्न सिंचाई परियोजनाओं के निर्माण और विकास में उनका योगदान आज भी याद किया जाता है। डॉ. रमन सिंह ने स्वर्गीय डॉ. सिंहदेव के साथ अपने वर्षों पुराने आत्मीय संबंधों को याद करते हुए कहा – मुझे उनका आशीर्वाद और मार्गदर्शन हमेशा मिलता रहा। छत्तीसगढ़ राज्य के विकास से जुड़े विभिन्न विषयों को लेकर समय-समय पर उनसे मेरी बातचीत होती रहती थी। कई बार वह मुझे पत्र लिखकर भी महत्वपूर्ण सुझाव देेते रहते थे। उनके निधन से हम सबने एक लोकहितैषी राजनेता और कुशल प्रशासक को हमेशा के लिए खो दिया है। मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। 

पत्रिका

अजब गजब