छत्तीसगढ़

फ्रेंडशिप डे के दिन अपने ही दोस्त की बेरहमी से हत्या !

फ्रेंडशिप डे के दिन अपने ही दोस्त की बेरहमी से हत्या !
फ्रेंडशिप डे के दिन अपने ही दोस्त की बेरहमी से हत्या !

रायपुर।
छत्तीसगढ़ में हत्या की रोंगटे खड़े कर देने वाली एक वारदात सामने आई है, जहां एक दोस्त ने फ्रेंडशिप डे के दिन अपने ही दोस्त की बेरहमी से हत्या करने के बाद उसके शव को काटकर उसके टुकड़े को संदूक में रखकर नाले के पास फेंक दिया। इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई।
लोगों ने इस बात की जानकारी तुरंत पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। फिलहाल इस घटना का आरोपी पुलिस हिरासत में है।
दरअसल, भिलाई के शहीद वीर नारायण नगर तेल्हानाला के पास सोमवार सुबह उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक संदूक में कई टुकड़ों में कटी हुई लाश मिली। पुलिस के मुताबिक लोगों ने नाले के पास एक संदिग्ध संदूक देखा। लोगों को शक हुआ तो उन्होंने पुलिस को इसकी जानकारी दी। संदूक को जब खोला गया तो पुलिस के होश उड़ गए। संदूक में एक शख्स का शव था।
पुलिस ने बताया कि सुबह एक राहगीर ने फोन कर इसकी जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि लावारिश संदूक को जब खोला गया तो उसमें एक युवक का शव था, जोकि कई टुकड़ों में बंटी हुई थी। पुलिस ने घटना की छानबीन शुरू की तो पता चला कि लाश विक्की नेताम की है। पुलिस ने परिवार वालों से पूछताछ की तो पता चला कि रविवार की रात विक्की अपने दोस्त चंद्रकुमार शर्मा के घर गया था, लेकिन वापस नहीं लौटा।
मृतक विक्की के पिता ने उसके दोस्त पर हत्या का आरोप लगाया तो पुलिस ने चंद्रकुमार से सख्ती से पूछताछ की। चंद्रकुमार ने अपने दोस्त की हत्या का जुर्म कबूल कर लिया है। चंद्रकुमार ने पुलिस को बताया रविवार की रात दोनों ने जमकर शराब पी। इसी दौरान दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया। दोनों में विवाद इतना बढ़ गया कि चंद्रकुमार ने गंडासे से प्रहार कर विक्की की हत्या कर दी।
इसके बाद आरोपी ने जुर्म को छिपाने के लिए विकी की लाश को कई टुकड़ों में कांट दिया और फिर उसे संदूक में भर कर नाले के किनारे फेंक दिया। दूसरे दिन सुबह नाले की सफाई के दौरान सफाईकर्मियों ने राजेंद्र नगर के जीई रोड और रेलवे ट्रैक के बीच नाले में फेंके गए संदूक को निकाला। इसके बाद इस वारदात का खुलासा हुआ। फिलहाल फॉरेसिंक टीम इस मामले की जांच कर रही है।

पत्रिका

अजब गजब