बड़ी ख़बर

आखिर क्यों आतिफ असलम पर भड़की लता मंगेशकर !

आखिर क्यों आतिफ असलम पर भड़की लता मंगेशकर !
आखिर क्यों आतिफ असलम पर भड़की लता मंगेशकर !

इस गाने के सामने आने के बाद सॉन्ग को ऑडियंस का मिला जुला रिस्पॉन्स मिल रहा है। कई लोगों को गाना पसंद आया है तो कुछ ने इस गाने को सिरे से भी नाकारा है।
फिल्म पाकीजा में मीना कुमारी, लेजेंड लता मंगेश्कर और सिंगर आतिफ असलम
अपकमिंग फिल्म मित्रों के एक गाने में आतिफ असलम ने अपनी आवाजा दी है। यह गाना फिल्म पाकीजा से सदाबहार गीत चलते-चलते है, जिसे रीमेक कर दर्शकों के सामने एक बार फिर से परोसा गया है। इस गाने के कवर वर्जन के लिए लिरिक्स और म्यूजिक दोनों तनिष्क बाग्ची ने दिए हैं। इस गाने के सामने आने के बाद सॉन्ग को ऑडियंस का मिला जुला रिस्पॉन्स मिल रहा है। कई लोगों को गाना पसंद आया है तो कुछ ने इस गाने को सिरे से भी नाकारा है।
ऐसे में महान गायिका लता मंगेश्कर से जब इस गाने पर रिएक्शन मांगा गया तो उन्होंने कहा कि उन्होंने ये गाना अभी तक नहीं सुना है। लता जी कहती हैं, और मैं सुनना भी नहीं चाहती। आज कल जो पुराने गानों को नया बना कर चलाने का रिवाज है वह गाने मुझे बेहद दुखी करते हैं। अब क्रिएटिविटी कहां हैं? गानों में वह सादगी कहां हैं। मैंने हमेशा सुना है कि रीमिक्स गानों में लिरिक्स बदल दिए जाते हैं। किसकी सहमति से?
लता जी आगे कहती हैं, ओरिजनल कंपोजर और कवियों ने वह लिखा जो उनके पास था। किसी को अधिकार नहीं है कि वह उसे बदले। उस क्रिएटिविटी को बदले।इस गाने का असल ट्रैक अपने जमाने की बड़ी अदाकारा रहीं मीना कुमारी पर फिल्माया गया था। गाने के बोल कैफी आजमी ने दिए थे।<>

पत्रिका

अजब गजब